​जी लेने दे मुझे जी लेने दे 

जी लेने दे मुझे जी लेने दे 

ओ मेरी मां मुझे जी लेने दे 

सांसो से तेरी ली मैंने सांसे एहसान तेरा ना भूल पाऊंगी 

आने दे मुझको दुनिया में अपनी घर आंगन में खुशियां ही लाऊंगी 

अमृत वो आँचल का पी लेने दे 

जी लेने दे मुझे जी लेने दे

Advertisements

जबसे उसे पहली बार देखा

📖✍जबसे उसे पहली बार देखा मैं दिवाना बना तब से…!!!

📖✍पहले तो सिर्फ पसन्द थी वो पता नहीं प्यार हुआ कब से…!!!

​अपनी प्रेम कहानी को एक नया मोड़ दूंगा मैं 

अपनी प्रेम कहानी को एक नया मोड़ दूंगा मैं 

तुझे क्या लगता है कि ऐसे ही छोड़ दूंगा मैं 

तू एक बार मेरी मोहब्बत पर एतबार तो कर 

बदन से खून का एक एक कतरा निचोड़ दूंगा मैं 

तू समझती है रिश्ते की फिक्र सिर्फ तुझे ही है 

एक बार प्यार से तो बुला तेरा ये भरम भी तोड़ दूंगा मैं

तेरी बेरुखी का ये आलम जानेमन ठीक नहीं है 

तेरी चौखट पर मार के अपना सर फोड़ दूंगा मैं 

तू बस एक बार मुझपे अपना होने का हक जता 

तेरी रूह से अपनी रूह का रिश्ता जोड़ दूंगा मैं 

मुझसे मिलने से पहले लाख बार सोचना 

अगर मिली तो तेरी कलाई मरोड़ दूंगा मैं

तू मुझे खुश रहने की सलाह देती है ना 

जा तुझे ऐसी की दुआएं हैं करोड़ दूंगा मैं 

तू मेरी नहीं होना चाहती है तो शौक से जा 

तेरी जुदाई में पहले ही क्षण दम तोड़ दूंगा मैं 

तू मुझे छोड़ दे मगर खुश रहना हमेशा क्योंकि 

तेरे जाने के बाद तो दुनिया छोड़ दूंगा मैं 

तेरे वादे तू ही जाने मुझे बस इतना बता दे 

क्या अब भी लगता है तुझे कि वादे तोड़ दूंगा मैं

नशा

नशा नस नस में समाया है आज के समाज में 

नशे के गुलाम हो गए हैं नौजवान आज के 

पीढ़ी दर पीढ़ी इसका व्यापार चल रहा है 
अरे इसी की कमाई से तो ये सरकार चल रहा है

​तेरे जाने के बाद

तेरे जाने के बाद में थोड़ा वीरान सा हूँ

कुछ आफ़त में तो कुछ परेशान सा हूँ

तेरे लौटने की आस अब करीब भी नही 

फूलो के बाज़ारो में अब में गुलदान सा हूँ

कोशिशें तो रोज होती हैं की मोहब्बत करू

बस बदले बदले चेहरों से में एक इंसान सा हूँ

​घर के हालात

घर के हालात ये कहते हैं कि परदेश को जा, मगर परदेश में जाकर घर याद बहुत आता है…!!!

और एक तरफ मां की आँखों का ही ऑपरेशन है तो एक तरफ मां को ही बेटा याद बहुत आता है…!!!